फेसबुकर्स – सावधान इस लेटेस्ट खतरे से



पूरा दिन और  रात फेसबुक पर बितानेवाले लोगो के लिए  हालही में ‘फ्री आईपेड प्राप्त करें’ और कितने लोगो ने आपकी प्रोफाईल व्यु कि जैसे स्क्रीप्ट और पेज के द्वारा हेकर्स के  हमलो से सावधान रहना जरुरी है.,



फेसबुकर्स के लिए हालममें फेसबुक पर अलग अलग एप्लिकेशन के द्वारा वायरस एटेक बढ़ा है..जिसमे फ्री आईपेड प्राप्त करें और कितने लोगो ने आपकी प्रोफाईल देखि जेसी  स्क्रीप्ट या एप्लिकेशन अचानक फेसबुक युझर्समें पोप्युलर बन गई है. जिससे खतरे का  प्रमाण बढ़ा है.. वास्तवममें यह एक प्रकारकि ललचाने वाली एप्लिकेशन्स वायरस अटेक है. जिससे सावधान रहना जरुरी है..सर्व प्रथम कितने लोगो ने प्रोफाईल देखि उसके विषय में बात करे तो वास्तविकता कुछ इस प्रकार देखने मिलती है.
My Facebook profile has been seen 3811 times!
Find out your total profile views: (यहाँ लिंक होती है)
“Find out your total profile views [ लिंक]

फेसबुक प्राइवेंशी के कारन से किशी भी  उपयोगकर्ता कि प्रोफाईल व्यू कि जानकारी ट्रेक नहीं  करता है साथ में उसका एक्सेस भी किशी को नही देता है. जिससे इस प्रकार कि जानकारी  सरासर जुट्ठी और हानिकारक है.. जबकि दूसरी और फ्री आईपेड प्राप्त करें  के लिए वायरस अटेककि लिंक कुछ इस प्रकार के अपडेट के रूप मै देखने मिलती है.
“iPad Researchers Wanted – Get An iPad Early And Keep It!”
“The Mega iPad Giveaway!” prey on the public’s desire to own a free iPad,”


किश प्रकार से नुकसान पहोंचाते है.?
अब आपको लगता होगा कि किश प्रकार से ये अपडेट्स के मेसेज आपको नुकसान पहोंचा शकते है, तो फ्रेन्ड्झ जरा आगे पढ़े. हेकर्स लुभावनी फेसबुक एप्लिकेशन बनाते रहते है. जिसमे आप अपनी फ्रेन्ड्झकि या अन्य किसी कि प्रोफाईलममें अपडेट्स देखके  उसे जाने समजे बिना एक्सेस करके allow करते हो .यह एक्सेस करने के लिए आपको  सामान्य जानकारी देने के लिए कहा जाता है. बसयही पूरा खेल चालू होता हैइस  प्रकारकि जानकारी के बहाने उपयोगकर्ता से सर्वे कराने का कार्य कराया जाता है. जिसके लिए हेकर्सको मोटी रकम मिलती है. और अगर आप भूल से अपना फोन नंबर दे दें तो प्रीमियम रेट कोलिंग र्सिवस आपके फोन में एक्टिवेट हो जाती है. आपकी जानकारी बिना ही कुछ पैसे आपके फोन से कटना चालू हो जाता है.

और भी अन्य प्रकारनके भी  पेज होते है. जिसमे आपको उसके फेन बनने का साथ ही आपको मित्रोको आमंतत्रित करने का कहा जाता है और ईवेन्ट भी एटेन्ड के लिए  कहा जाता है. इस के साथ साथ आपको हानिकारक पेज से  स्क्रीप्ट कोपी करके आपके एड्रेस बारममें  रन करने का कहाँ जाता है.. उसके बाद थोडी राह देखने को कहा जाता है. जिसके द्वारा आपकी प्रोफाईलके सभी मित्रोके ईमेल आईडी और बाकि जानकारी चुराने का और स्पाम ईमेल एटेक होने का भय रहता है.. अथवा तो यह स्क्रीप्ट रन होने के बाद आपको कोई सोफ्ट्वेर डाउनलोड करने को कहा जाता है. जोकि  ट्रोजन वायरसको आपके कम्प्यूटरममें ईन्स्टोल कर आपकी जानकारी और पासवर्ड चुराने के लिए उपयोगी रहते है..

किस प्रकार बचे इस परेशानीसे ?
  1. सर्वप्रथम तो फ्रेन्डकि वाल पर या अन्य जगह से इस प्रकारकि  पोस्ट पर या  लिंक पर क्लिक न करें.
  2. जो जाने या अंजाने इस प्रकार कि लुभाने अथवा शंकाशील एप्लिकेशन एक्सेस कि  हो और उसकी पोस्ट आपकी  वाल पर दिखती हो तो उसे तुरंत ही पोस्टके  X बटन पर क्लिक कर रिमूव कर दो.
  1. जिस किशी भी शंकाशील एप्लिकेशन द्वारा आपका फोटो teg हुआ हो उस फोटो पर क्लिक करो और  उसकी  नीचे आपके नाम पर जाकर remove teg ’ कर दे.
  2. फेसबुककि इस प्रकारकि कोई एप्लिकेशन के द्वारा कुछ डाउनलोड किया हो तो एन्टि-वायरस सोफ्टवेर रन कर वायरसकि जाँच कर उसे दूर करें.
  3. लास्ट और  ईम्पोर्टन्ट स्टेप पासवर्ड बदलना न भूले.यह कार्य तो वैसे ही आपको सामान्य रीत से कुछ समयांतर करते रहना चाहिए.
 फेसुबक पर सामान्यतह इस प्रकार बहुत सि लुभावनी और हानिकारक स्क्रीप्ट और  एप्लिकेशन आती रहती है. इस लिए मुफ्त का ढूढना बंद करें, कारण कि कोई भी  वस्तु के लिए कुछ कीमत तो चुकानी पड़ती है. अन्य किस प्रकारके वायरस और एप्लिकेशन फेसबुक पर कार्यरत होते है. जानने के लिए   http://www.facebookfakes.com/?p=259#/?cat=48  क्लिक करें जो आपको इस प्रकार कि नुकसानकारक स्क्रिप्ट और एप्लिकेसन कि जानकारी से अपडेट रख कर  नुकसानसे बचायेंगे.

7 comments:

निर्मला कपिला ने कहा…

bahut achhi janakari hai dhanyavaad.

Ratan Singh Shekhawat ने कहा…

upyogi janakari ke lie aabhar

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

मैं खुद को फेसबुक पर इन सब से बचाकर रखता हूँ.जागरूकता बढाने का आपका यह अच्छा प्रयास है.

एक सुझाव भी -कृपया टाइप करते समय वर्तनी की अशुद्धियों पर विशेष ध्यान दें.

सादर

Ramkesh patel ने कहा…

बहुत बढिया जानकारी |

blogtaknik ने कहा…

@यशवंतजी आपके सुझाव के लिए शुक्रिया पर माफ़ कीजियेगा मै गुजरात से हूँ और गुजरती मेरी मात्रभासा है इस कारण हिंदी कि वर्तनी कि असुध्धियाँ बहुत ही अधिक होगी पर मै इसे आपकी सहायता से जरुर सुधार करने कि कोशिश करूँगा

आशुतोष की कलम ने कहा…

मैं भी इस्तेमाल करता हूँ फेसबुक..ध्यान रखूँगा..बहुत सुन्दर जानकारी दी आप ने

Kailash C Sharma ने कहा…

बहुत ज्ञानवर्धक पोस्ट..

एक टिप्पणी भेजें

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
| More

हिंदी में लिखें

विजेट आपके ब्लॉग पर